ABG Shipyard Bank Fraud in hindi : जानिए ABG Shipyard बैंक घोटाला क्या है? किन किन बैंक से कितना लिया था कर्ज?

Biggest Bank Frauds in India :

यूपी सहित पांच राज्यों में चुनाव को लेकर तना-तनी के बीच Banking Sector का सबसे बड़ा घोटाला (I
ndia Biggest Bank Frauds) सामने आया है , यह मामला भारत के गुजरात से जुड़ा है इस घोटाले के सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है , क्या है यह पूरा मामला आइए जानते हैं -


क्या है एबीजी शिपयार्ड? (What is ABG Shipyard) :

ABG Shipyard का पूरा कारोबार 'ABG Group' के पास है, यह एक ऐसा फॉर्म है जो जहाज निर्माण और जहाज की मरम्मत के लिए कार्य करती है। कंपनी के शिपयार्ड गुजरात के दाहेज और सूरत में स्थित है.

"ABG Shipyard यह निजी जहाज निर्माण कंपनी है यह लगभग 20 टन के जहाज का निर्माण करती हैं , ABG Shipyard की स्थापना सन 1985 में हुई थी , अबग ABG Shipyard Headquarter मुंबई में स्थित है.

एबीजी शिपयार्ड के मालिक कौन है?(ABG Shipyard Owner/CEO) :

ABG Shipyard के चेयरमैन ऋषि अग्रवाल है।


ABG Shipyad कहाँ स्थित है? (Where is ABG Shipyard)

ABG शिपयार्ड गुजरात के दहेज और सूरत में स्थित हैं। कंपनी ने पिछले 16 वर्षों में 165 से अधिक जहाजों का निर्माण किया है, विदेशी ग्राहकों के लिए 46, जिसमें Newsprint carriers जैसे विशेष जहाज शामिल हैं।



एबीजी शिपयार्ड बैंक घोटाला क्या है? :

What is ABG Shipyard Bank Fraud : ABG Shipyard ने कुल 22842 करोड़ का बैंक घोटाला लिया है. SBI (State Bank of India) के अनुसार ABG Comapny ने भारतीय स्टेट बैंक से 2925 करोड़ रुपए का कर्जा लिया था, इसके अलावा आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) से 7089 करोड़ रुपये, IDBI Bank से 3634 करोड़ रुपये , Bank of Baroda से 1614 करोड , PNB (Panjab National Bank) से 1244 करोड़ , बैंक ऑफ इंडिया से 1228 करोड रुपए का कर्जा ले रखा है, इन कर्जो का भुगतान यह कंपनी नहीं कर रही है। 

SBI की शिकायत के आधार पर CBI ने एबीजी शिपयार्ड ग्रुप और उनके निर्देशको को पर FIR दर्ज की है।



ABG Shipyard Bank Fraud कब हुआ?

ABG Shipyard के खिलाफ SBI ने पहली शिकायत 8 नवंबर 2019 को दर्ज की थी, CBI ने 12 मार्च 2020 को भारतीय स्टेट बैंक की शिकायत पर इसका स्पष्टीकरण मांगा था.

2020 में SBI ने नई शिकायत दर्ज की जिसके प्राथमिक डेढ़ साल की जांच के बाद अब SBI की शिकायत पर कार्यवाही की जा रही है.


ABG Shipyard Bank Fraud में कौन कौन शामिल है? (Who is involved in ABG Shipyard Bank Fraud?)


एबीजी के पूर्व अध्यक्ष और प्रबंध निर्देशक ऋषि कमलेश अग्रवाल निर्देशक संथानम , मुथास्वामी , अश्विनी कुमार , सुशील कुमार अग्रवाल , रवि विमल नेवेटिया और एक अन्य व्यक्ति जोकि ABG International Private limited को नामित किया है ।


एबीजी शिपयार्ड पर क्या है आरोप :

  • एबीजी ने बैंक के ग्रुप से लोन और कई तरह के क्रेडिट सुविधाएं ली
  • बैंक से मिले पैसे को विदेशों में भेजा
  • बैंक से लोन लेने पर शेयर व जायदाद खरीदें
  • पैसों को एक कंपनी से दूसरी कंपनी में भेजा गया , इन पैसों का सही उपयोग नहीं किया गया ।



एबीजी शिपयार्ड ने बैंकों को कितने का लगाया चूना-

FIR के मुताबिक एबीजी शिपयार्ड ने भारतीय स्टेट बैंक के साथ अन्य अनेक बैंकों को 22842 करोड़ का चूना लगाया है, यह घोटाला 2012 से 2017 तक का है.

सीबीआई ने इस मामले में जिसमें सूरत, मुंबई, पुणे व भरूच समेत 13 जगहों पर छापेमारी की गई है, इसके बाद कई जगहों पर आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद हुए हैं व दावा है , कि यह जांच बड़े बड़े अधिकारियों तक पहुंच सकती हैं।


ABG Shipyard bank fraud bank list :

  1. ICICI Bank - 7089 करोड़
  2. IDBI Bank -3634 करोड़
  3. SBI (State Bank of India) - 2925 करोड़
  4. Bank of Baroda - 1614 करोड़
  5. Exim Bank -1327 करोड़
  6. Panjab National Bank (PNB) - 1244 करोड़ 
  7. Indian Overseas Bank -1228 करोड़ 
  8. Standard Chartered Bank - 743 करोड़ 
  9. Bank of India (BOI) - 719 करोड़ 


एबीजी शिपयार्ड बैंक फ्रॉड मामले में सियासत गर्म :

एबीजी शिपयार्ड बैंकिंग घोटाले के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर कड़ा हमला बोल दिया है कांग्रेस ने आरोप लगाते हुए कहा है कि मोदी सरकार के 7 साल के कार्यालय में बैंकों के NPA में तेजी से बढ़ोतरी हुई है.

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर मोदी सरकार को कहा है कि 22842 करोड रुपए की सार्वजनिक ठगी हुई है।





ABG Shipyard Bank Scam FIR के तहत 8 लोग गिरफ्तार :

यह फ्रॉड आज तक का सबसे बड़ा फ्रॉड है जिसने अभी तक के सारे धोखाधड़ी के आंकड़ों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है, ABG Shipyard Bank fraud Case में 8 लोगों की गिरफ्तारी बताई जा रही है, साथ ही 13 जगह छापेमारी भी की गई है और अब यह कड़ी कुछ नेताओं तक भी जुड़ सकती हैं ।


ABG Shipyard Bank Fraud जांच के लिए बनाई गई टीम :

सीबीआई ने मामले की गंभीरता को देखते हुए इस धोखाधड़ी की जांच के लिए अधिकारियों की टीम बनाई है सीबीआई आने वाले दिनों में एबीजी शिपयार्ड के निर्देशकों की जांच में शामिल होने के लिए बुला सकती है और उनके बयान दर्ज कर सकती हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ