header ad

जानिए : Koo App क्या हैं? | koo app के मालिक कौन है ? | koo Full detail in hindi

koo app review | koo app kya hai in hindi :

koo application | india ka twitter


Koo ऐप को एक twitter के इंडियन अल्टरनेटिव के रूप में देखा जा रहा है, जिसके डेवलपर राधा कृष्ण और मयंक बिदावतका है, जिन्होंने ये app पिछले साल मार्च में डेवलप किया था ।

what is koo app in hindi :

यह ट्विटर की तरह एक माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है, जहां आप विचारों , मुद्दों पर अपने ओपिनियन दे सकते हैं,

इस की खास बात यह है, कि koo ऐप को भारतीय भाषा-  हिंदी, अंग्रेजी, तमिल, मराठी, तेलुगु, बंगाली, कन्नड़, भाषाओ में उपलब्ध है, 

गुजराती, संस्कृत, आसामी, उड़ीसा, तमिल, पंजाबी, कश्मीरी, मलयालम, मणिपुरी, नेपाली, कोंकणी , Assamese, और अनेक भाषाओं उपलब्ध होगा.


जिसमे से अभी कुछ ही भाषाओ में koo एप्लीकेशन/वेबसाइट उपलब्ध है को निम्न है-

Koo app supporting languages :

  1. हिंदी, 
  2. कन्नड़,
  3. अंग्रेजी, 
  4. मराठी, 
  5. तेलुगु, 
  6. बंगाली, 

Koo app upcomming supporting languages :  

  1. मलयालम, 
  2. गुजराती, 
  3. आसामी, 
  4. उड़ीसा, 
  5. तमिल, 
  6. पंजाबी, 
  7. कश्मीरी, 
  8. मणिपुरी, 
  9. नेपाली, 
  10. कोंकणी , 


koo app कब launch किया गया था : 

koo app launch Date  : Koo app/website को Bombinet Technologies Private Limited Bengaluru द्वारा मार्च 2020 में डेवलप किया गया था.


Koo App किस देश का App है? 

Koo application "micro-blogging website" (like: twitter) पूर्ण रूप से भारत में बनाया गया एप्लीकेशन/website है, koo aap ने ही 2020 में भारत सरकार द्वारा आयोजित "AtmaNirbhar app innovation challenge" को जीता था.


koo app के founder कौन है : ( Founder of Koo app )

Koo app  के owner (मालिक) Mr. Radhakrishna एवं Mayank Bidawatka है.

  • koo app co-founder & CEO- Mr. Radhakrishna.
  • co-founder- Mr. Mayank Bidawatka.

koo app official website : 




koo apk को कैसे download करे :

koo ऐप को Google play store और apple app store पर डाउनलोड कर सकते हैं, वह ऐप को अभी तक (Date of posting the article) 1 मिलियन से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चूका हैं, और इसकी रेटिंग 4.7 है.


Koo App में अकाउंट कैसे create करे :

koo app का use कैसे करे : koo आप का use करने के लिए सबसे पहले आपको koo app को Download करना होगा. उसके बाद koo app पर अकाउंट बनाना होगा. आइये जानते है की koo app पर अकाउंट कैसे क्रिएट करे?


मोबाइल में koo ऐप पर अकाउंट बनाने के लिए सिंपल स्टेप्स को फॉलो करना है -

स्टेप 1 :  को  install करके ओपन करे.
स्टेप 2 : उसके बाद भाषा चुने.
स्टेप 3 : उसके बाद फ़ोन नंबर डाले. 
स्टेप 4 : OTP डालकर वेरीफाई करे.
स्टेप 5 : otp वेरीफिकेशन के बाद आप कू app के होम स्क्रीन पर आ जायेंगे.
स्टेप 6 : उसके बाद ओपन बाये कोने (Left corner) पर प्रोफाइल वाले आप्शन पर क्लिक करे.
स्टेप 7 : उसके बाद आपको प्रोफाइल फोटो , बायो, यूजरनेम, प्रोफेशन, लोकेशन, जन्मतिथि, ईमेल, gender, इत्यादि जानकारी को भरना होगा,
स्टेप 8 : यह सभी प्रोसेस complate करने के बाद आप कू app पर पोस्ट, massage कर सकते है,


Is Koo a Chinese app?

चाइनीस इन्वेस्टर शुनवेई कैपिटल ने सन 2018 में koo और vocal पेरेंट कंपनी "Bambinate technologies" में पैसा लगाया था, राधा कृष्ण ने बताया है कि हमने अपने बिजनेस में koo पर फोकस किया है और अब शुनवेई इससे बाहर निकलने वाले हैं, हम इसे सच्चे तरीके से भारतीय app बनाना चाहते हैं।

koo app का headquarters कहाँ है?

Koo एप का हेडक्वार्टर बेंगलुरु (भारत) में है, यह पूरी तरह से एक भारतीय ऐप है जिसका डिवेलप भी भारत में ही हुआ था.

koo app की parent company :

koo app का फंडिंग राउंड का नेतृत्व 3one4 capital कर रही है. कू की मूल कंपनी में अन्य निवेशकों में एक्सेल, कलारी कैपिटल, ब्लूम वेंचर्स और ड्रीम इनक्यूबेटर शामिल हैं।

चाइनीस इन्वेस्टर शुनवेई कैपिटल (Shunwei Capital) ने koo और vocal की पैरंट कंपनी में 2018 में पैसा लगाया था, राधा कृष्ण ने बताया है कि हमने अपने बिजनेस में koo पर फोकस किया है और अब शुनवेई  इस से बाहर निकलने वाले हैं हम इसे सच्चे तरीके से भारतीय app बनना  चाहते हैं.


koo app का उपयोग कैसे करे : 

हमने आपको पहले भी बताया है ,कि यह अन्य सोशल मीडिया platform जैसे ही ऐप है. आपको koo app के होम पेज पर उन लोगों की पोस्ट को देख सकते हैं, जिन्होंने आप को फॉलो किया है.

Koo app में अगर आप किसी पोस्ट में हैशटैग (जैसे-#IndiaKaTwitter) ऑप्शन का यूज करते हैं, तो आपकी पोस्ट ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने की संभावनाएं बनी रहती है. या तो आपको पता ही होगा की ट्विटर किस तरह से काम करता है बिल्कुत यह एप्लीकेशन भी उसी प्रकार से कार्य करता है.

सर्च ऑप्शन से आप किसी भी व्यक्ति को खोज पाने में सक्षम हैं.

Koo app  के inbox option में आपने जिन लोगों को फॉलो किया है, या जिन लोगों ने आपको फॉलो किया है आप उन लोगों से मैसेज के थ्रू बात कर सकते हैं.

Koo एप के नोटिफिकेशन ऑप्शन पर आपके फॉलोवर्स अगर कोई पोस्ट अपलोड की है, या आपकी कोई पोस्ट को लाइक किया है उन सभी चीजों के मैसेज आपको नोटिफिकेशन बॉक्स में आएंगे.


-----------------------------

FAQ -

What is koo app?

यह एक बहुत अच्छा तरीका है जिससे आप भारतीय लोगों से कनेक्ट हो सकते हैं यह एक आत्मनिर्भर ऐप है जिससे भारत में ही डेवलप किया गया.

दूसरे सोशल मीडिया की तरह इस ऐप पर आप नए लोगों को फॉलो और आप इस पर लोगों को फॉलो कर सकते हैं ।

Is Koo app safe?

एक फ्रेंच सिक्योरिटी रिसर्चर का दावा है कि यह ऐप यूज़ के लिए बहुत अच्छा नहीं है जिसे का कहना है कि यह का इमेल आई डी,  DOB और भी बहुत सारी पर्सनल जानकारी को लीक कर रहा है ।


Is Koo a Chinese app?

जी नहीं यह पूरी तरह से एक भारतीय एप्चालीकेशन है.

Who is Koo app owner?

Koo app  के मालिक Mr. Radhakrishna एवं Mayank Bidawatka है.


#IndiaKaTwitter "made in india"



My official Koo account : click here 

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ