cyber insurance policy क्या है? cyber insurance policy के फायदे in Hindi |

cyber insurance policy in hindi

आज के समय में cyber crime बहुत अधिक बाद गया है, Covid-19 समयांतराल  से सभी कम्पनी वर्क फॉर्म होम के रस्ते को अपना रही है, सभी बड़ी बड़ी कम्पनी अपना काम ऑनलाइन ही कर रही है, लेनिक इसके कारण साइबर क्राइम धोकाधड़ी में  भी बहुत बढोतरी देखने को मिली है .





अपने देखा ही होगा या आपके साथ भी कभी हुआ होगा, की एक Unkown कॉल पर अपने आप को बैंक ऑफिसर बताकर आपसे एटीएम का पिन ,OTP, या बैंक की सभी जानकारी मांग लेते है, और जानकारी देते ही आपके अकाउंट से पैसे निकल जाते है. 

या किसी अनजान नंबर से मेसेज आता है उसमे लिंक दी जाती है और उस लिंक पर क्लिक करते ही आपका अकाउंट खली हो जाता है. या हो सकता है की उस लिंक पर क्लिक करते ही आपके नंबर पर कोई OTP आये पर OTP fill करते ही आपके बैंक अकाउंट से पैसे कट जाये. इन सबसे बचने के लिए आप cyber insurance करवा सकते है. 


cyber insurance kya hai ?


What is cyber insurance : साइबर बीमा आमतौर पर Sensitive ग्राहक की जानकारी, जैसे स्वास्थ्य रिकॉर्ड से संबंधित डेटा  , क्रेडिट कार्ड नंबर, खाता नम्बर, चालक का लाइसेंस नंबर और Social security number को Liability को कवर करता है।

मुख्य रूप से आप इस तरह समझ सकते है की "cyber Insurance लोगो, कारोबारियों , कंपनी या किसी के भी साथ हुए धोकाधड़ी (साइबर क्राइम जैसे : बैंक अकाउंट से पैसे निकल जाना, ऑनलाइन पैसे कट जाना , या किसी के द्वारा ऑनलाइन फ्रौड करना आदि) को साइबर insurance कवर करता है."

 

Cyber Insurance की जरूरत क्यों पड़ी : 

आपके पास भी कभी fake call आया होगा जिसमे आपको कहा जाता है की यह बैंक से बात क्र रहे है और आपके क्रेडिट कार्ड में कोई दिक्कत आ गई है, जिसके लिए आपके एटीएम के लास्ट 6 डिजिट मांगते है और आपसे ATM का पिन ,OTP, या बैंक की सभी जानकारी मांग लेते है, और जानकारी देते ही आपके अकाउंट से पैसे कट जाते है. 

या  online investment करवा कर कंपनी भाग जाती है. या किसी अनजान नंबर से मेसेज आता है उसमे लिंक दी जाती है और उस लिंक पर क्लिक करते ही आपका अकाउंट खली हो जाता है. इन सबसे बचने के लिए आप cyber insurance करवा सकते है. क्योकि-

इससे बचने के लिए cyber Insurance company's आपके डाटा , बैंक अकाउंट की जानकारी, एटीएम की जानकारी, Social Security Number, Credit card Number, लाइसेंस नंबर, इन सभी जानकारी को कवर करेक रखता है



cyber insurance companies  in India : 

अगर हम बात करे की इंडिया की सबसे ज्यादा पॉपुलर insurance कंपनी कौन सी है जो cyber insurance की insurance policy प्रोवाइड करवाती है 
  • HDFC ERGO, 
  • TATA AIG, 
  • BAJAJ ALLIANZ, 
  • ICICI LOMBARD 
  • Policy Bazar, etc.
और बहुत सारी कम्पनी है जो cyber insurance policy देती है.

cyber insurance क्या cover करता है :

अबतक आपको पता लग ही गया होगा की जो साइबर policy बनाई गई है वह आपके साथ होने वाले cyber crime के अटैक को रीकने के लिए डिजाईन की गई है.

cyber insurance policy में insurance कम्पनी लगभग सभी चीजो को प्रोटेक्ट कर लेती जिसे साइबर क्राइम को रोका जा सके. आपके साथ हुए cyber crime (धोकाधड़ी ) की स्थिति में सुरक्षा को मुहैया करवाती है, चाहे वह cyber crime किसी भी तहर से हुआ हो  जैसे- ईमेल-स्पूफिंग , मैलवेयर अटैक, या (इंटरनेट पर किसी भी तरह से होने वाली धोकाधड़ी) etc.

Cyber Insurance Policy To Help Protect You-

  • Identify theft
  • Cyber stalking
  • Malware Attack
  • IT theft loss
  • Phishing
  • E-mail Spoofing
  • Media Liability Claims
  • Cyber Extortion
  • Privacy & Data Breach by third party

cyber insurance के प्रकार :

  • Network Security 
  • Theft and fraud.
  • Forensic investigation
  • Business interruption
  • Extortion
  • Reputation Insurance
  • Computer data loss and restoration
  • Information Privacy

cyber insurance लाभ : 



Coverage under the Individual cyber safe policy : यह policy 10 चीजों से बचा के रखती है, सोशल मीडिया लेबिलिटी, साइबरस्टॉकिंग, मालवेयर अटेक, IT theft loss, phishing, ईमेल स्पूफिंग, मीडिया लेबिलिटी ,फाइबर एक्सप्लोरेशन etc.

Financial Costs Coverage :  साइबर इंश्योरेंस का फायदा है, डिफेंस कॉस्ट से, प्रॉसीक्यूशन कॉपी से,  जब आप साइबर क्राइम का सिकार हो जाए हो... 

Counselling Services : साइबर-हमले का शिकार होने से तनाव, BP की समस्या, या इसी तरह की बीमारी आपके घेर लेती है ऐसी स्थिति cyber insurance policy आपको यह सलाह देती है की किसी भी प्रकार केcyber crime के कारण होने वाले तनाव में, आपको मान्यता प्राप्त मनोचिकित्सक, मनोवैज्ञानिक या परामर्शदाता से उपचार लेना चाहिए। ऐसी स्थिति में साइबर बीमा आपको हुए नुकशान की भरपाई का विश्वाश दिलाती है.

IT Consultant Services Cover: Cyber इंश्योरेंस कवर की गई राशि और सीमा को साबित करने के लिए आपके द्वारा किए गए IT कंसल्टेंट की लागत को कवर करता है।


cyber insurance हानि :

अगर आपके साथ धोकाधड़ी हुआ है जिसकी लगत बहुत अधिक है और आपने किसी ऐसी insurance कंपनी में बिमा करवाया है जो आपके लगत को कवर न कर पाए, ऐसी स्थिति में बड़ी और प्रतिष्ठित कंपनी के मुकाबले आपको काफी नुकशान हो सकता है , इसलिए ध्यान रखे की किसी ऐसी कम्पनी में बिमा करवाए जो भरोसेमंद हो.

स्वयं का बीमा करने के बाद, insuring themselves, businesses और उनकी सुरक्षा में investment करने के लिए पर्याप्त प्रयास नहीं कर सकते हैं। 




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ