नर्सिंग कोर्स क्या है? नर्सिंग में अपना कैरियर कैसे बनाये? Nursing course information in hindi

नर्सिंग कोर्स क्या होता है नर्सिंग क्या है और नर्सिंग के बहुत सारे कोर्स आज हम आपको यही
बताने वाले हैं कि

    नर्सिंग कोर्स क्या है?

    अस्पतालों में डॉक्टर के साथ मरीजों की सेवा, घायलों का इलाज, करने वाले लोगों को नर्स कहते हैं, और इनके नाम को ही Nursing कहते हैं, और यही Nursing एक तरीके का कोर्स और नौकरी होती है.


    इस क्षेत्र में महिला और पुरुष दोनों ही अपना भविष्य बना सकते हैं. नर्स लोगों का पहला उद्देश्य दूसरों की सेवा करना होता है, और दूसरों की सेवा के साथ-साथ अपने पैरों पर खड़े होना भी होता है. यह ऐसा कोर्स है जो गांव से लेकर शहर तक के छात्र छात्रा सभी करना पसंद करते हैं.


    Nursing courses कौन-कौन से होते है :

    Nursing में कई प्रकार के Nursung courses होते हैं. जिसमें-
    1. Diploma,
    2. Under Graduate Certificate,
    3. Diploma Under Graduate Certificate आदि होते हैं.

    अपनी रूचि के अनुसार आप Nursing Courses चुन सकते हैं. 

    इसके अंतर्गत आते हैं कार्डियोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिक्स, आप्थाल्मालॉजी, ऑर्थोपेडिक्स,आदि बहुत से क्षेत्रों में जा सकते हैं. जिसमें आप सहायक नर्स मिडवाइफ हेल्थ वर्कर को से शुरू कर सकते हैं एक ओर से 2 साल के होते हैं इनमें बच्चों माता  वृद्ध व्यक्तियों के स्वास्थ्य संबंधी चीजें होती हैं 

    ANM :

    एएनएम करने के लिए हमारे पास 12वीं पास की योग्यता और हम 17 से 35 वर्ष के बीच तक के होने चाहिए एएनएम में पोषण पर्यावरण स्वच्छता संक्रमण टीकाकरण बाल स्वास्थ्य मानसिक स्वास्थ्य आदि पर अध्ययन किया  जाता है

    GNM : 

    जीएनएम ('जीएनएम नर्सिंग कोर्स')में 12वीं पास अनिवार्य है जीव विज्ञान से 40 से 50% तक अंक होने चाहिए वह हमारी 17 से 35 के बीच में उम्र होनी चाहिए जीएनएम में जैविक विज्ञान कीटाणु विज्ञान व्यावहारिक विज्ञान मनोविज्ञान नागरिक शास्त्र अंग्रेजी पोषण स्वास्थ्य शिक्षा स्वास्थ्य नर्सिंग व्यक्तिगत स्वच्छता पर अध्ययन किया जाता है

    BSC in Nursing :

    बीएससी नर्सिंग कोर्स के लिए 10+2 की परीक्षा के साथ-साथ भौतिकी रसायन अंग्रेजी जीव विज्ञान और इसके अलावा इंटरमीडिएट परीक्षा में 55 अंक अनिवार्य है इस कोर्स में हमारी उम्र 17 से 35 वर्ष तक होनी चाहिए बीएससी नर्सिंग मे हर वर्ष के लिए अलग-अलग पाठ्यक्रम होता है :

    1). एनाटॉमी फिजियोलॉजी पोर्शन जीव रसायन हिंदी लाइब्रेरी अंग्रेजी कंप्यूटर मनोविज्ञान कीटाणु विज्ञान आदि

    2). नागरिक शास्त्र औषध पैथोलॉजी लाइब्रेरी मेडिकल पाठयक्रम गतिविधियां  इत्यादि

    3). बाल स्वास्थ्य नर्सिंग मानसिक विज्ञान पाठ्यक्रम गतिविधियां लाइब्रेरी इत्यादि

    4). सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग लाइब्रेरी पाठयक्रम गतिविधियां इत्यादि


    Also Read :

    Nursing की नौकरियां :

    नर्सिंग के लिए वार्ड सिस्टर सरकारी और निजी दोनों नौकरी, स्कूल हेल्थ नर्स, इंडस्ट्रियल नर्स, नर्स स्पेशल केयर सेंटर और बीएससी नर्सिंग टीचर और बीएससी नर्सिंग सेना में निवृत हो सकते हैं

    नर्सिंग की फीस : ('नर्सिंग कोर्स फीस')

    सभी कॉलेज नर्सिंग की पढ़ाई का खर्च भी नहीं होता है सरकारी कॉलेज और सरकारी सहायता प्राप्त कॉलेज की फीस निजी कॉलेज से कम होती है.

    नर्सिंग कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया बहुत सिर्फ संस्थान प्रत्यक्ष प्रवेश प्रक्रिया का पालन करते हैं, 10+2 की परीक्षा के अंकों के आधार पर आवेदकों के लिए सीट आवंटित की जाती है,

    कुछ प्रतिष्ठित संस्थान प्रवेश में निजी स्क्रीनिंग टेस्ट और इंटरव्यू का भी आयोजन करते हैं.

    टिप्पणी पोस्ट करें

    0 टिप्पणियां